नीतीश कैबिनेट का विस्तार: आज 17 मंत्री लेंगे शपथ, जानिए- किस जाति से कितने मंत्री, पढ़ें पूरी लिस्ट

0
268
All kind of website designing

मीम ज़ाद फ़ज़ली

पटना : नीतीश मंत्रिमंडल में बीजेपी कोटे से 9 और जेडीयू कोटे से 8 विधायक मंत्री बनेंगे. बीजेपी के मुस्लिम चेहरे शाहनवाज हुसैन का नाम भी नए मंत्रियों की सूची  में शामिल है. बताया जाता है कि मंत्रिमंडल में नीतीश कुमार ने युवा चेहरों पर जोर दिया गया है.

बिहार में आज दोपहर 12.30 बी जे राज्यपाल फागू चौहान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नए मंत्रियों को पद और गोपनीयता की दिलाएंगे. इससे पहले एबीपी न्यूज़ के पास कैबिनेट में शामिल होने वाले मंत्रियों के नाम की कंफर्म लिस्ट आ गई है. साथ ही एबीपी न्यूज़ के पास ये भी जानकारी है कि किस जाति से कितने लोग मंत्री बनने जा रहे हैं. नीतीश मंत्रिमंडल में बीजेपी कोटे से 9 और जेडीयू कोटे से 8 विधायक मंत्री बनेंगे. बीजेपी के मुस्लिम चेहरे शाहनवाज हुसैन का नाम भी नीतीश के नए मंत्रियों की लिस्ट में शामिल है. जानिए किस जाति से कितने मंत्री हैं.

सत्ता में करीब ढाई महीने की लंबी खींचतान के बाद कैबिनेट विस्तार किया जा रहा है. नीतीश कुमार पिछले साल नवंबर में सातवीं बार राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी. सैयद शाहनवाज हुसैन के साथ जमा खान भी मंत्री बनेगी. यानि नीतिश कैबिनेट में दो मुस्लिम समुदाय के लोग मंत्री बनने जा रही हैं. शाहनवाज हुसैन वर्तमान में बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं. वह दो बार के लोकसभा सांसद, केंद्र सरकार में फूड प्रोसेसिंग, नागरिक उड्डयन, टेक्सटाइल्स और युवा मामलों के मंत्री भी रहे.

इसी क्रम में गत 22 जनवरी 2021 को खबर आई थी कि विपक्ष और सत्तारूढ़ दल की तरफ से बड़े राजनीतिक हेरफेर की बात कही जा रही है। मिडिया में आने वाली ख़बरों के मुताबिक बिहार में बहुजन समाज पार्टी के एकमात्र विधायक मोहम्मद जमां खान जदयू में शामिल होने जा रहे हैं। वह कैमूर के चैनपुर विधानसभा सीट से जीत हासिल किये थे।उसी समय ऐसा माना जा रहा था  कि बहुत जल्द होने वाले कैबिनेट विस्तार में उनको मंत्री पद मिल सकता है। बता दें कि यह बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए भी बड़ा झटका माना जा रहा था, क्योंकि जमां खान पार्टी के एक मात्र विधायक थे और उन्हों  भी जदयू का दामन थाम थम लिया था । बता दें कि बीते 18 दिसंबर को जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की थी। तभी से यह कयास लगाए जा रहे थे कि वह जदयू ज्वॉइन करने वाले हैं। विधायक जमां खान के अलावा कांग्रेस के विधायक गौतम मुरारी ने भी पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से मुालाकत की थी। दोनों विधायकों ने करीब डेढ़ घंटे तक उस वक्त रहे जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से मुलाकात की थी। वहीं दोनों विधायकों से मुलाकात करने के बाद पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने मुलाकात को निजी बताया था.

نیا سویرا لائیو کی تمام خبریں WhatsApp پر پڑھنے کے لئے نیا سویرا لائیو گروپ میں شامل ہوں

تبصرہ کریں

Please enter your comment!
Please enter your name here